मूंग दाल खिचड़ी | खिचड़ी रेसिपी | Khichdi Recipe In Hindi

Moong Dal Khichdi या Khichdi एक विशुद्ध भारतीय व्यंजन है जो की अलग-अलग कारणों एवं अवसरों पर बनाई जाती है। इसको मरीजों का भोजन भी कहा जाता है और बिना खिचड़ी के आप मकर संक्रांति जैसे बड़े पर्व की कल्पना भी नहीं कर सकते।
इसको प्रसाद के तौर पर भंडारे में खूब प्रयोग किया जाता है। आप लंच, डिनर और ब्रेकफास्ट तीनों में खिचड़ी खा सकते हैं।

Khichdi

खिचड़ी कैसे बनाए?/Khichdi Recipe In Hindi

Khichdi एक ऐसा व्यंजन है जिसको दाल चावल और विभिन्न प्रकार की सब्जियों को मिलाकर बनाया जाता है। मूंग, अरहर (तूर दाल), मसूर, उर्द दालों का प्रयोग खिचड़ी बनाने में किया जाता है और इसमें अपनी मन पसंद सब्जियों में से किसी दो या तीन सब्जियों का प्रयोग किया जा सकता है। जैसे : आलू.मटर,गोभी,शिमला मिर्च आदि।

खिचड़ी बनाने के लिए सामग्री/Ingredients For Khichdi Recipe

सामग्रीमात्रा
मूंग दाल200g
चावल200g
देशी घी3 बड़े चम्मच
हल्दी पाउडर1 छोटी चम्मच
नमकस्वादानुसार
लाल मिर्च पाउडर1 छोटी चम्मच
जीरा1 छोटी चम्मच
हींगचुटकी भर
तेज पत्ता2
गरम मसाला1/2 चम्मच
हरा धनिया1/4 कप बारीक कटा
टमाटर1 बारीक कटा
अदरक1 इंच टुकड़ा
लहसुन2 या 3 कली
प्याज1 बारीक कटी

खिचड़ी बनाने की विधि/Khichdi Recipe

  • सबसे पहले दाल चावल की बीन कर साफ़ कर लें और फिर दो या तीन बार पानी से धोकर दाल चावल को दस मिनट के लिए पानी में भिगोने के लिए रख दें।
  • अब कुकर में 1 बड़ा चम्मच घी डालकर अच्छी तरह गर्म करलें गर्म होने पर इसमें भीगे हुए दाल और चावल डाल दें।
  • दाल की सुगन्ध आने लग जाये तब तक इसे चलाते रहें।
  • भूने हुए दाल चावल को कुकर से अलग करलें।
  • कुकर में 1 बड़ा चम्मच देशी घी डालकर गर्म होने पर उसमें हींग, जीरा और तेज पत्ता दाल दें। जीरा गुलाबी होने पर उसमें बारीक कटे हुए टमाटर, प्याज और अदरक, लहसुन का पेस्ट डालकर अच्छी तरह चलाएं। अब इसमें हल्दी, लाल मिर्च (पिसी) डाल दें।
  • जब टमाटर बिलकुल नरम हो जाएँ तब इसमें भुने हुए दाल चावल और कटी हुयी सब्जी पसंद के अनुसार डालकर अच्छी तरह मिक्स कर दें।
  • अब इसमें गरम मसाला और पानी डालकर (चावल डूबने से ऊपर) कुकर का ढक्कन बंद कर दें और 2 सीटी लगाएं।
  • अब हमारी स्वादिष्ट Moong Dal Khichdi बनकर तैयार है।
Khichdi Recipe Video :

खिचड़ी बनाने की विधि (चित्र सहित)/Khichdi Recipe With Images

  • सबसे पहले दाल चावल बीन कर साफ़ कर लें और फिर दो या तीन बार पानी से धोकर दाल चावल को रख दें।
Khichdi

कुकर में 1 बड़ा चम्मच देशी घी डालकर गर्म होने पर उसमें हींग, जीरा और तेज पत्ता दाल दें। जीरा गुलाबी होने पर उसमें बारीक कटे हुए टमाटर, प्याज और अदरक, लहसुन का पेस्ट डालकर अच्छी तरह चलाएं। अब इसमें हल्दी, लाल मिर्च (पिसी) डाल दें।

Khichdi

जब टमाटर बिलकुल नरम हो जाएँ तब इसमें भुने हुए दाल चावल और कटी हुयी सब्जी पसंद के अनुसार डालकर अच्छी तरह मिक्स कर दें।

Khichdi

अब इसमें गरम मसाला और पानी डालकर (चावल डूबने से ऊपर) कुकर का ढक्कन बंद कर दें और 2 सीटी लगाएं।

Khichdi

अब हमारी स्वादिष्ट Moong Dal Khichdi बनकर तैयार है।

Khichdi

इसे भी पढ़ें : Moong Dal Halwa Recipe In Hindi

इसे भी पढ़ें : Khichdi Khane Ke 7 Fayde

FAQ,s

Q-1. खिचड़ी में क्या क्या पड़ता है?
Ans. खिचड़ी के लिए सामग्री :-

मूंग दाल : 200g
चावल : 200g
देशी घी : 3 बड़े चम्मच
हल्दी पाउडर : 1 छोटी चम्मच
नमक : स्वादानुसार
लाल मिर्च पाउडर : 1 छोटी चम्मच
जीरा : 1 छोटी चम्मच
हींग : चुटकी भर
तेज पत्ता : 2
गरम मसाला : 1/2 चम्मच
हरा धनिया : 1/4 कप बारीक कटा
टमाटर : 1 बारीक कटा
अदरक : 1 इंच टुकड़ा
लहसुन : 2 या 3 कली
प्याज : 1 बारीक कटी

Q-2. खिचड़ी में कितना पानी डालना चाहिए?
Ans. खिचड़ी में दाल और चावल की मात्रा से 3 गुना पानी डालना चाहिए।

Q-3. खिचड़ी कितने प्रकार के होते हैं?
Ans. खिचड़ी कई प्रकार से बनाई जाती है कुछ लोग दाल के साथ चावल मिक्स करके बनाते हैं तो कुछ लोग साबू दाना और बाजरा की खिचड़ी बनाते है वहीं कुछ लोग दलीया और दाल की खिचड़ी भी बनाते हैं।

Q-4. क्या रात में खिचड़ी खा सकते हैं?
Ans. हाँ, रात में खिचड़ी खाना आपके स्वास्थय के लिए काफी लाभदायक होता है क्योंकि खिचड़ी पोषक तत्वों से भरपूर होती और पचने में आसान होती है।

Q-5. खिचड़ी कौन से दिन खाना चाहिए?
Ans. खिचड़ी हफ्ते में कभी भी किसी भी दिन खाई जा सकती है लेकिन ज्योतिष के अनुसार शनिवार के दिन खिचड़ी खाना अच्छा रहता है इससे शनिदेव प्रसन्न होते है तथा गुरुवार को खिचड़ी खाने से दरिद्रता आती है।

Q-6. खिचड़ी या मकर संक्रांति का त्यौहार 2023 में कब होगा?
Ans. पंचांग के अनुसार 14 जनवरी 2023 को दिन शनिवार को रात के 8 बजकर 14 मिनट को सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा ऐसे में उदया तिथि के अनुसार 15 जनवरी को मकर संक्रांति का पर्व मनाया जायेगा जिसका शुभ मुहूर्त 15 जनवरी सुबह 7 बजकर 15 मिनट से शाम 5 बजकर 46 मिनट तक रहेगा।

5/5 - (3 votes)

Leave a Comment